press-vani
  • press-vani
  • press-vani
  • press-vani
ad
स्पेशल स्टोरी
press-vani

भूखा क्यों हैं भारत

— जाहिद खान — देश में कुपोषण और भुखमरी के हालात बदलने का नाम नहीं ले रहे। ग्लोबल हंगर इंडेक्स द्वारा हाल ही जारी आंकड़ों के अनुसार भारत 117 देशों की रैंकिंग में 102 वें स्थान पर है। इसमें सबसे हैरानी की बात यह है कि हंगर इंडेक्स में भारत अपने पड़ोसी देशों पाकिस्तान, बांग्लादेश, नेपाल और श्रीलंका...

press-vani

मंदी के दौर में अर्थशास्त्र पर शास्त्रार्थ

इन दिनों दुनिया भर में अर्थशास्त्र को लेकर शास्त्रार्थ चल रहा है। आईएमएफ से लेकर विश्व बैंक और भारतीय रिजर्व बैंक तक अपनी-अपनी तरह से आर्थिक सुस्ती पर चिंता जता रहे हैं। यहां गौर करने वाली बात यह है कि अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) की पॉलिसी रिपोर्ट में भी कहा गया है कि दुनिया भर में आई सुस्ती...

press-vani

जबरो करे हलाल, कठै करां गुहार

— अनिल चतुर्वेदी — बैंकिंग सेक्टर को लेकर नागरिकों में जितना भय और आशंका इस समय देखी जा रही है, उतनी शायद ही कभी महसूस की गई हो। ये माहौल विगत कुछ वर्षों में बना है। कहा जा सकता है कि नोटबंदी के बाद से। लोगों को बैंक के साथ लेन-देन करने में बांध सा दिया गया है। बैंकिग सेवाओं पर तमाम तरह से शुल्क लगा...

press-vani

मल्टीप्लैक्स में स्नैक्स का अतिरिक्त ‘टैक्स’

— आभा शर्मा — किसी भी मल्टीप्लेक्स सिनेमाघर में पिक्चर देखने के लिए घुसते ही पॉपकॉर्न की महक आपका ध्यान खींचे बिना नहीं रहती। बच्चे तो क्या, बड़ों के लिए भी मध्यांतर के दौरान खुद को पॉपकॉर्न खाने से रोकना काफी मुश्किल हो जाता है। यही हाल किसी भी मॉल में जाने पर होता है, जहाँ कॉफी और पॉपकॉर्न जैसे...