press-vani
  • press-vani
  • press-vani
  • press-vani
ad
स्पेशल स्टोरी
press-vani

आवारा हूँ....

- अशोक बंसल - कालजयी साहित्यिक कृतियों (कविता, कहानी, उपन्यास आदि) के जन्म की कहानी बेहद रोचक होती है। गीतकार शैलेन्द्र के तीन गीतों के जन्म के किस्से आपको जरूर गुदगुदाएंगे। दरअसल यह किस्से मुझे शैलेन्द्र के बेटे दिनेश और बेटी अमला ने सुनाए थे। मैं तो बस यूं ही पूछ बैठा था कि ‘शैलेन्द्र जी इतने...

press-vani

ओलम्पिक खिलाड़ी तैयार कर रहे जवान सीताराम

कर्म ही जीवन है और जीवन को अगर परमार्थ में लगा दिया जाए तो उससे अधिक सार्थक जीवन क्या होगा? ऐसा ही सार्थक जीवन है-भारतीय सेना में जवान रह चुके एथेटिक कोच सीताराम का। मूलत: राजस्थान के नागौर जिले के जायल गांव निवासी सीताराम अब जयपुर में रहकर खिलाडिय़ों की नई फौज तैयार करने में जुटे हैं। वे एसएमएस...

press-vani

क्यों नाराज हैं बनारसी मतदाता अपने सांसद से ?

- अजय चतुर्वेदी - गंगा किनारे बसी काशी की पहचान एक प्राचीन और धार्मिक नगरी की भी है। वरुणा और असी नदियों के बीच बसा होने के कारण इसका नाम वाराणसी भी है। इसे बाबा भोलेनाथ की नगरी भी कहते हैं। वाराणसी इन दिनों राजनीतिक कारणों से चर्चा में है। और हो भी क्यों न। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के यहाँ से...

press-vani

‘जय-अनुसंधान’ को बजट की दरकार

— विनोद वाष्र्णेय — पेटेंट अर्जित करने का मामला हो या क्वालिटी अनुसंधान का, विश्व स्तर पर भारत की स्थिति अर्थव्यवस्था के आकार के अनुकूल नहीं है। कई बार आलोचना होती है कि जब चीन अपने सकल घरेलू उत्पाद का 2 प्रतिशत अनुसन्धान पर व्यय और निवेश करता है तो भारत ने अपना व्यय व निवेश घटाकर महज 0.7 प्रतिशत...