press-vani
  • press-vani
  • press-vani
  • press-vani
जनाक्रोश, पर ख्वाब में कामयाबी
April 30, 2018



हरियाणा के लोगों का बस चले तो वे राज्य सरकार और उसके मुखिया की अभी छुट्टी कर दें। पर मलाल ये है कि अभी साल-डेढ साल और उन्हें इस भाजपा सरकार को झेलना है। सरकार से तो चलो जैसे-तैसे काम चला लेंगे, लेकिन मुखिया जी को और कुछ समय के लिए बर्दाश्त करना जनता-जनार्दन को अझेल लग रहा है। अगर आप प्रदेशवासियों का मन टटोलेंगे तो यही हकीकत सामने आएगी। बस उनको छेडऩे भर की देर है, भड़ास खुद ब खुद निकलने लग जाएगी।
पर हरियाणवी सियासत पर बारीकी से नजर रखने वाले बिलकुल उलट बात करते हैं। उनके लिहाज से मुखिया जी का फिलहाल कोई विकल्प नहीं है। उन पर अभी तक भ्रष्ट आचरण का कोई आरोप नहीं लगा है। वे जो भी कर रहे हैं, पार्टी के तय एजेंडे के अनुरूप कर रहे हैं। इसीलिए पार्टी आलाकमान को भी उनसे कोई शिकायत नहीं है। यहां तक कि जाट आंदोलन तथा डेरा सच्चा-सौदा मामला गरमाने के दौरान भी पार्टी मुखिया जी के साथ खड़ी रही है। ऐसे में उऩसे उकता जाना और हटाने की बात करना बेकार की बातें मानते हैं जानकार। इन सियासी जानकारों का दावा तो यहां तक है कि मुखिया जी सत्ता में वापसी कर सकते हैं। संभावना काफी प्रबल है। मतलब कि भाजपा की लंबी पारी खेलने की रणनीति हरियाणा में भी कामयाब होने जा रही है। जनता की नाराजगी के बावजूद ये कामयाबी कैसे मिलेगी, देखना रोचक होगा।

 
Leave a Reply

Recent Posts