press-vani
  • press-vani
  • press-vani
  • press-vani
क्यों मांझी, क्यों धोई!
October 25, 2018



--हेमलता-
सबरीमाला मन्दिर मामले पर एक बार फिर जगहंसाई वाली चर्चा शुरू हो गई। हमारी केंद्र सरकार के दिनमान भी लगता है इन दिनों ठीक नहीं है। एक के बाद एक इसके अपने ही मंत्री ऐसे काम कर रहे है, बोल रहे हैं और तमाम ताकत झोंक दे रहे हैं, मानो कह रहे हों कि भैया...बहुत हो गया, अब 2019 तक तो बोरिया बिस्तर समेत ही लो। कहीं राफेल हवाओं में डुबकियां लगा रहा है तो कहीं अकबर तख्तो ताज से धड़ाम नीचे गिर रहे हैं। पिंजरे के तोते एक दूसरे को फूटी आंख नहीं भा रहे हैं।
अब कल ही देख लो, मंत्री मैडम का दिमाग घूम गया। घर के मुंडेर पर बैठी चिड़िया को फुल वॉल्यूम में अपना ज्ञान बांट दिया और फिर जब चिड़िया बोलने वाली निकली और दुनिया जहांन में मैडम के ज्ञान का बखान कर दिया तो मैडम ने चिड़िया को वापस बुला कर कहा, मैंने जो बोला, उसे डिलीट कर! बेचारी चिड़िया क्या करे... उसने तो डिलीट कर दिया पर अब तक बात उसकी बिरादरी से बाहर निकल चुकी थी। इंसानों की बस्ती में पहुंची तो उन्होंने चिड़िया को बुला कर मैडम का कहा दुबारा चहचहाने का फरमान सुना दिया। अब चिड़िया ठहरी नौकरी की मारी, उसे तो जो बोले उसी की तूती बजानी है। अगला करता रहे डिलीट! याद रहे....मैया कहती थी...”मांझत गई धोवत गई..!’’ तो भैया क्यों मांझी, क्यों धोई!

 
Leave a Reply