press-vani
  • press-vani
  • press-vani
  • press-vani
क्रिकेटर गौतम स्पॉट फिक्सिंग में फंसे

कर्नाटक प्रीमियर लीग में स्पॉट फिक्सिंग को लेकर क्रिकेटर सी गौतम और अबरार काजी का नाम सामने आने से भारतीय क्रिकेट हिल गया है। सी गौतम आईपीएल की तीन बड़ी टीमों रॉयल चैंलजर्स बैंगलोर, मुंबई इंडियंस और दिल्ली डेयरडेविल्स का हिस्सा रह चुके हैं। उनके नाम रणजी क्रिकेट के इतिहास का भी सबसे बड़ा रिकॉर्ड है। इतने अनुभवी खिलाड़ी का नाम फिक्सिंग में आने से हर कोई सकते में है।
33 साल के दायें हाथ के विकेटकीपर-बल्लेबाज गौतम ने 94 फर्स्ट क्लास मैच, 58 लिस्ट ए क्रिकेट और 48 टी20 मैच खेले हैं। आठ मार्च 1986 को कर्नाटक में जन्मेट गौतम के नाम रणजी ट्रॉफी के इतिहास में बतौर विकेटकीपर एक सीजन में सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड है। इसके अलावा भी उनके नाम कई रिकॉर्ड्स हैं। गौतम पर कर्नाटक प्रीमियर लीग के इस सीजन में हुबली और बेल्लारी टीम के बीच खेले गए खिताबी मुकाबले में फिक्सिंग करने का आरोप है। उन पर आरोप लगा है कि धीमी बल्लेबाजी के लिए उन्हें 20 लाख रुपये दिए गए थे।
विकेटकीपर बल्लेबाज चिदंबरम मुरलीधरन गौतम कर्नाटक के साथ एक लंबा समय बिताने के बाद गोवा की टीम में चले गए हैं। रणजी ट्रॉफी के करीब पांच सीजन में गौतम ने कर्नाटक टीम का प्रतिनिधित्व किया। 2012-2013 रणजी ट्रॉफी में वह सर्वाधिक स्कोर करने वाले दूसरे खिलाड़ी थे। अपनी शानदार बल्लेबाजी के दम पर 2011 में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने उन्हें अपने साथ शामिल किया। हालांकि उन्हें आईपीएल के डेब्यू करने का मौका नहीं मिल पाया। उनकी बल्लेबाजी से प्रभावित होकर दिल्ली डेयरडेविल्स ने 2013 में उनके साथ एक साल का अनुबंध किया। हालांकि डेयरडेविल्स ने नमन ओझा और पुनीत बिष्ट की सेवाएं ली। इसके बाद 2014 में मुंबई इंडियंस ने 20 लाख रुपये में गौतम को अपने साथ शामिल कर लिया था।

press-vani
हम लोगों की बात...
press-vani ad