press-vani
  • press-vani
  • press-vani
  • press-vani
गाड़ी की नंबर प्लेट पर स्पष्टीकरण

गाड़ी के नंबर प्लेट के रंगों को लेकर सरकार की ओर से स्पष्टीकरण जारी किया गया है। एक न्यूज एजेंसी के असार सरकार ने स्पष्ट किया है कि बैटरी से चलने वाले वाहनों पर हरे रंग की नंबर प्लेट और उस पर पीले रंग से गाड़ी का नंबर लिखने का काम पहले की तरह जारी रहेगा।
इसके साथ ही सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने एक नोटिफिकेशन भी जारी किया है. इस नोटिफिकेशन में कहा गया है कि वाहनों के अस्थायी रजिस्ट्रेशन की नंबर प्लेट पीले रंग की होगी। इस पर लाल रंग से अक्षर-अंक लिखे होंगे, जबकि डीलरों के पास रखे वाहनों पर नंबर प्लेट लाल रंग की होगी, जिस पर सफेद रंग से अक्षर-अंक लिखे होंगे। मंत्रालय ने कहा कि यह नोटिफिकेशन सिर्फ वाहनों के नंबर प्लेट की बैकग्राउंड और उस पर अंकित अक्षर-अंक के रंगों से जुड़ी अस्पष्टता दूर करने के लिए जारी किया गया है। नोटिफिकेशन में कुछ भी नया नहीं जोड़ा गया है।
वाहनों में 7 रंग की नंबर प्लेट होती है। ये प्लेट- सफेद, नीला, पीला, लाल, हरा, काली और तीर निशान की होती हैं। हर रंग की प्लेट का अपना एक अर्थ होता है। उदाहरण के लिए सफेद प्लेट आम गाड़ियों के लिए, पीली प्लेट कमर्शियल गाड़ियों के लिए और नीली प्लेट विदेशी प्रतिनिधियों के लिए इस्तेमाल होती है। इसी तरह, काले रंग की प्लेट वाली गाड़ियां भी कमर्शियल तो होती हैं, लेकिन ये किसी खास व्यक्ति के लिए अधिकृत होती हैं। वहीं, इलेक्ट्रिक परिवहन वाहनों के लिए नंबर प्लेट का बैकग्राउंड हरा निर्धारित है। अगर किसी गाड़ी में लाल रंग की नंबर प्लेट है तो वह गाड़ी भारत के राष्ट्रपति या फिर किसी राज्य के राज्यपाल की होती है। सैन्य वाहनों के लिए अलग तरह की नंबरिंग प्रणाली का इस्तेमाल किया जाता है। ऐसी गाड़ियों की नंबर प्लेट में नंबर के पहले या तीसरे अंक के स्थान पर ऊपरी ओर इशारा करते तीर का निशान होता है, जिसे ब्रॉड एरो कहा जाता है।

press-vani
हम लोगों की बात...
press-vani ad