press-vani
  • press-vani
  • press-vani
  • press-vani
पहलू मामले की अपीलें साथ सुनेगा हाईकोर्ट

अलवर के बहुचर्चित पहलू खां मॉब लिंचिंग मामले में शुक्रवार को राजस्थान हाईकोर्ट में सुनवाई हुई। जस्टिस सबीना की खंडपीठ ने परिजनों की अपील पर सुनवाई करते हुए आदेश दिया कि इसके साथ सरकार की ओर से पेश अपील को भी जोड़ दिया जाए, ताकि कोर्ट दोनों अपीलों पर एक साथ सुनवाई कर सके।
इस मामले में एडीजे अलवर के फैसले के खिलाफ परिजनों और सरकार ने हाईकोर्ट में अपील की है। आज सरकार की अपील कोर्ट में लिस्ट नहीं हो सकी। इस कारण अदालत ने दोनों अपीलों को टैग करने के आदेश दिए। इसी वर्ष 14 अगस्त को अलवर की एडीजे-1 अदालत ने मामले से जुड़े सभी 6 आरोपियों को बरी कर दिया था। उसके बाद यह अपील पेश की गई हैं। परिजनों की अपील पर पैरवी करने वाले वरिष्ठ अधिवक्ता नासिर अली नकवी ने बताया कि हमने अपील के जरिए कोर्ट से प्रार्थना की है कि निचली अदालत के फैसले को रद्द किया जाए। जब तक कोर्ट अपील को तय नहीं कर देता है, तब तक आरोपियों को गिरफ्तारी वारंट से तलब करके जेल में रखा जाए।
1 अप्रैल, 2017 को पहलू खां और उसके बच्चों के साथ गाय को ले जाते समय बहरोड़ थाना इलाके में कथित तौर पर मारपीट हुई थी। इसमें गंभीर रूप से घायल होने के कारण पहलू खां की मौत हो गई। इस पूरे घटनाक्रम के बाद पहलू और उसके परिजनों के खिलाफ भी पुलिस ने गो-तस्करी का मामला दर्ज किया था। उसे हाल ही में 30 अक्टूबर को हाईकोर्ट ने रद्द कर दिया है।

press-vani
हम लोगों की बात...
press-vani ad